इस हफ्ते आपको मिलेगा तीन आईपीओ में निवेश का मौका, जानिए किस सेक्टर की कंपनी है, शेयर की क्या कीमत है और कब होगा अलॉटमेंट और लिस्टिंग


  • Hindi News
  • Business
  • IPO Launching This Week In Market; Here’s Latest News Updates From Upcoming Initial Public Offerings (Ipos)

मुंबई22 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
  • किसी भी आईपीओ या शेयर में निवेश के लिए वित्तीय सलाहकारों से सलाह जरूर लें
  • हाल के दिनों में जो भी आईपीओ आए हैं उन्होंने 10 दिन में ही दोगुना का रिटर्न दिया है

इस हफ्ते तीन आईपीओ आ रहे हैं। इसमें म्यूचुअल फंड के लिए सेवा देनेवाली कैम्स और केमकॉन स्पेशियलिटी केमिकल का इश्यू आज खुल रहा है। यह दोनों इश्यू 23 सितंबर को बंद होंगे। जबकि एंजल ब्रोकिंग का इश्यू कल यानी मंगलवार को खुलेगा और गुरुवार को बंद होगा। हम आपको बता रहे हैं इन आईपीओ के बारे में। कैसे इसमें आप निवेश करेंगे और कंपनी कैसी है।

आईपीओ का मतलब क्या है?

आईपीओ का मतलब कोई भी कंपनी जब पहली बार स्टॉक एक्सचेंज पर लिस्ट होती है तो उसे कुछ शेयर जारी करने होते हैं। इसे हम इनीशियल पब्लिक ऑफर कहते हैं।

निवेश करने से पहले कंपनी की फाइनेंशियल स्थिति के बारे में जरूर पता करना चाहिए

निवेश करने से पहले कंपनी की फाइनेंशियल स्थिति के बारे में जरूर पता करना चाहिए

कैम्स के बारे में-

कंपनी क्या करती है?

कंप्यूटर एज मैनेजमेंट सर्विसेस (कैम्स) फाइनेंशियल इंफ्रा और सेवा के लिए टेक्नोलॉजी देती है। यह म्यूचुअल फंड के रजिस्ट्रार और ट्रांसफर एजेंट के रूप में काम करती है। क्रिसिल की रिपोर्ट के मुताबिक, म्यूचुअल फंड में इसकी बाजार हिस्सेदारी 69.4 प्रतिशत रही है। कैम्स की विशेषता यह है कि इसका पूरे भारत में नेटवर्क है। टेक्नोलॉजी कंपनी है। काफी बड़ा इंफ्रास्ट्रक्चर है।

आईपीओ के पैसे का क्या होगा?

कैम्स को इसमें कोई पैसा नहीं मिलेगा। इसके जो हिस्सेदार हैं, वे अपने शेयर बेचेंगे और पैसा उनको मिलेगा। लिस्टिंग का लाभ लेने के लिए आईपीओ आ रहा है। इसमें कई हिस्सेदार हैं जिसमें एनएसई भी है।

आपको आईपीओ में शेयर खरीदने के लिए उपरोक्त तरीका अपनाना चाहिए

आपको आईपीओ में शेयर खरीदने के लिए उपरोक्त तरीका अपनाना चाहिए

कम से कम और अधिकतम कितना शेयर खरीद सकते हैं ?

कम से कम 12 शेयर (एक लॉट) और अधिकतम 156 शेयर (13 लॉट) खरीद सकते हैं। कम से कम 14,760 रुपए और अधिकतम एक लाख 91 हजार 880 रुपए का निवेश कर सकते हैं। कर्मचारियों के लिए प्रति शेयर 122 रुपए का डिस्काउंट है।

लॉट साइज क्या है?

लॉट साइज मतलब आप कम से कम एक लॉट खरीद सकते हैं या अधिकतम 2 लाख रुपए के कम मूल्य के शेयर में जितना लॉट होगा उतना खरीद सकते हैं। सेबी के नियमों के मुताबिक रिटेल निवेशक किसी एक आईपीओ में 2 लाख रुपए तक का निवेश कर सकता है।

केमकॉन स्पेशियालिटी के बारे में-

कंपनी क्या करती है ?

केमकॉन स्पेशियालिटी 1988 की कंपनी है। यह विशेष केमिकल उत्पादों का निर्माण करती है। इन उत्पादों में एचएमडीएस और सीएमआईसी भी शामिल हैं। फार्मास्यूटिकल्स केमिकल्स में यह वैश्विक स्तर की बड़ी निर्माता कंपनी है। घरेलू और वैश्विक स्तर पर इसके ग्राहक हैं।

आईपीओ के पैसे का क्या करेगी?

कंपनी पैसे का उपयोग मैन्युफैक्चरिंग सुविधा का विस्तार करने में करेगी। इसके साथ वर्किंग कैपिटल के लिए उपयोग करेगी और जनरल कॉर्पोरेट उद्देश्य के लिए भी खर्च करेगी।

कम से कम और अधिकतम कितना शेयर खरीद सकते हैं?

कम से कम 44 शेयरों (एक लॉट) और अधिकतम 572 शेयरों (13 लॉट) को खरीद सकते हैं। कम से कम 14,960 रुपए और अधिकतम एक लाख 94 हजार 480 रुपए का निवेश कर सकते हैं।

अलॉटमेंट का मतलब आपको कितना शेयर मिला है। जब ज्यादा लोग शेयर खरीदते हैं तो ऐसी स्थिति में यह संभव है कि आपको शेयर न मिले

अलॉटमेंट का मतलब आपको कितना शेयर मिला है। जब ज्यादा लोग शेयर खरीदते हैं तो ऐसी स्थिति में यह संभव है कि आपको शेयर न मिले

एंजल ब्रोकिंग के बारे में-

कंपनी क्या करती है ?

1996 में स्थापित यह कंपनी देश के अग्रणी स्टॉक ब्रोकिंग कंपनियों में है। यह मूलरूप से एडवाइजरी और फाइनेंशियल सेवा देती है। इसके साथ ब्रोकिंग और मार्जिन फंडिंग की भी सेवा देती है। यह चौथी सबसे बड़ी ब्रोकिंग कंपनी है। कंपनी का मजबूत ब्रांड है।

आईपीओ के पैसे का क्या करेगी?

कंपनी आईपीओ के पैसे का उपयोग वर्किंग कैपिटल और जनरल कॉर्पोरेट उद्देश्य के लिए करेगी।

कितना शेयर खरीद सकते हैं?

कम से कम 49 शेयर (एक लॉट) और अधिकतम 637 शेयर (13 लॉट) खरीद सकते हैं। कम से कम 14,994 और अधिकतम एक लाख 94 हजार 922 रुपए का निवेश कर सकते हैं।

ग्रे मार्केट का मतलब वो मार्केट जहां शेयरों की बिक्री ज्यादा भाव पर होती है। जैसे आपको किसी आईपीओ में शेयर मिला और लगता है कि इसकी लिस्टिंग कम या ज्यादा भाव पर होगी तो फिर आप इसे ग्रे मार्केट में बेच सकते हैं

ग्रे मार्केट का मतलब वो मार्केट जहां शेयरों की बिक्री ज्यादा भाव पर होती है। जैसे आपको किसी आईपीओ में शेयर मिला और लगता है कि इसकी लिस्टिंग कम या ज्यादा भाव पर होगी तो फिर आप इसे ग्रे मार्केट में बेच सकते हैं

रूट मोबाइल की आज लिस्टिंग

उधर रूट मोबाइल की आज लिस्टिंग होनेवाली है। यह इश्यू 9 से 11 सितंबर तक खुला था। 345 से 350 रुपए के मूल्य पर आया था। उम्मीद है कि यह आज प्रीमियम पर लिस्ट होगा। ग्रे मार्केट में इसका प्रीमियम 80 प्रतिशत ज्यादा है।

इन आईपीओ ने निवेशकों को दिया बेहतर रिटर्न

हैप्पिएस्ट माइंड की लिस्टिंग पिछले हफ्ते हुई थी। इस शेयर ने महज 10 दिनों में ही निवेशकों को दोगुना का लाभ दिया है। यानी आपके 10 हजार रुपए 20 हजार रुपए हो गए। इसके पहले डीमार्ट और आईआरसीटीसी भी 10 दिन में ही दोगुना मुनाफा लिस्टिंग पर दिए थे।

0



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*