चुनावी विज्ञापन से नीतीश कुमार का चेहरा गायब, सिर्फ PM मोदी की तस्वीर, क्या हैं मायने?


पीएम नरेंद्र मोदी और सीएम नीतीश कुमार (फाइल फोटो)

पटना:

बिहार विधान सभा चुनावों (Bihar Assembly Elections) के पहले चरण के चुनाव में अब तीन दिन बचे हैं. इस बीच राज्य की सत्ताधारी राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) के लिए वोट करने की अपील पर बिहार के अखबारों में आज पहले पन्ने पर एक विज्ञापन छपवाया गया है. इस विज्ञापन से गठबंधन के सीएम पद के उम्मीदवार और चुनावों में एनडीए की अगुवाई कर रहे नीतीश कुमार का चेहरा गायब है. विज्ञापन में सिर्फ पीएम नरेंद्र मोदी की तस्वीर छपी है. विज्ञापन में लिखा है, “भाजपा है तो भरोसा है, एनडीए को जिताएं.”

यह भी पढ़ें

हालांकि, विज्ञापन के ऊपर एनडीए के सभी घटक दलों का चुनाव चिह्न लगाया गया है लेकिन सीएम चेहरा होने के बावजूद नीतीश कुमार की तस्वीर नहीं है. यह विज्ञापन बिहार भाजपा की तरफ से प्रकाशित करवाया गया है. बिहार भाजपा के भी किसी नेता की तस्वीर विज्ञापन में नहीं है. यानी बीजेपी सिर्फ पीएम मोदी के नाम के भरोसे यह चुनाव जीतना चाह रही है, जबकि उसके मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार नीतीश कुमार हैं. बीजेपी ने विज्ञापन में चुनावी घोषणा पत्र के कुछ वायदे भी लिखवाए हैं.

‘असंभव नीतीश’ मुहिम चला रहे चिराग पासवान, बोले- जहां LJP कैंडिडेट नहीं, BJP को दें वोट

उधर, लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान ने इस विज्ञापन पर तंज कसा है और कहा है कि नीतीश जी को प्रमाण पत्र की आवश्यकता खत्म होती नहीं दिख रही है. उन्होंने ट्वीट किया है, आदरणीय @NitishKumar जी को प्रमाण पत्र की आवश्यकता ख़त्म होती नहीं दिख रही है।@BJP4India के साथीयों का @NitishKumar जी को पुरे पन्ने का विज्ञापन और प्रमाणपत्र देने के लिए शुक्रगुज़ार होना चाहिए और जिस तरीक़े से भाजपा गठबंधन के लिए ईमानदार है वैसे ही नीतीश जी को भी होना चाहिए।

बता दें कि बीजेपी ने सीएम नीतीश कुमार द्वारा तेजस्वी के 10 लाख नौकरी के वादे को मजाक बनाने और उसे असंभव करार देने के बावजूद 19 लाख रोजगार का वादा किया है. इस पर तेजस्वी ने पूछा था कि बीजेपी बताए कि उसका सीएम उम्मीदवार कौन है? ओवैसी ने भी तंज कसा था कि बीजेपी राज्य में अपना सीएम बनाना चाहती है.

 

वीडियो: बिहार चुनाव : क्यों बिगड़ रही CM नीतीश कुमार की भाषा?





Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*