‘देश करता है बॉलीवुड से घृणा, जाकर कह दीजिये संसद मे’, डिबेट के दौरान फूटा अर्नब का गुस्सा


Arnab Goswami Debate, Republic TV, Poochta Hai Bharat: वरिष्ठ पत्रकार अर्नब गोस्वामी सुशांत केस को लेकर मोर्चा खोले हुए हैं। इस बीच रिपब्लिक टीवी पर अपने कार्यक्रम ‘पूछता है भारत’ में डिबेट के दौरान बॉलीवुड पर अर्नब गोस्वामी का गुस्सा फूटा है। डिबेट के दौरान अर्नब गोस्वामी ने कहा कि, ‘याद रखिए आप लोग यह चेतावनी नहीं है। यह खोखली बात नहीं है यह सच्चाई है। आप लोग जो कुछ भी कर रहे हो उसके चलते जनता आप लोगों से घृणा कर रही है। जया बच्चन जी कल जाकर संसद में कह दीजिएगा कि अर्नब गोस्वामी ने ‘पूछता है भारत’ में बोला कि भारत की जनता हम लोगों से नफरत करती है।’

अर्नब गोस्वामी ने आगे कहा, ‘सुशांत की हत्या और दिशा की मौत पर आप लोगों का मौन व्रत इस कारण आज बॉलीवुड से घृणा करती है भारत की जनता। बॉलीवुड ने अपनी ड्रग्स वाली बीमारी को छिपाने के लिए सुशांत को मानसिक तौर से बीमार कहा था। आप लोगों ने कहा कि सुशांत मानसिक रूप से बीमार था। बीमार तो आप लोग हैं। आप लोगों को घमंड की बीमारी, ड्रग्स की बीमारी, नशे की बीमारी है। इस बीमारी को अब देश भगाएगी, नशेड़ियों को अब पूरा देश सबक सिखाएगा।’

अर्नब गोस्वामी ने कहा, ‘मेरे साथ आज यह पूरा भारत पूछ रहा है कि अगर बॉलीवुड में ड्रग्स पाकिस्तान से आता है तो क्या बॉलीवुड के कुछ लोग भारत में पाकिस्तान का व्यापार बढ़ा रहे हैं। जो लोग खुदको नायक और महानायक कहते हैं वो बॉलीवुड के नशेड़ियों पर मौन क्यों हैं? आज सबसे बड़ा सवाल यह है कि जो लोग बॉलीवुड की आड़ में पाकिस्तान की मदद कर रहे हैं उन्हें देशद्रोही क्यों न कहा जाए और उनका बहिष्कार क्यों न हो? यह सवाल मैं नहीं पूरा भारत पूछ रहा है।’

बता दें कि बीते दिनों अर्नब गोस्वामी ने बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन पर भी निशाना साधा था। अर्नब ने कहा था कि, ‘महानायक तो कठिन सवालों का जवाब देते हैं। महानायक तो देश का साथ देते हैं। आवाज उठाते हैं। वो पढ़ी लिखी लाइन पर आवाज उठाना कोई बड़ी बात नहीं है असल जीवन में कोई आवाज उठाता है या नहीं इस सवाल को महत्व होता है महानायक जी।’

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। में रुचि है तो



सबसे ज्‍यादा पढ़ी गई






Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*