पूर्व पाक क्रिकेटर जहीर अब्बास ने IPL कराने पर किया BCCI का सपोर्ट, बोले- हर देश पैसा कमाना चाहता है


पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर जहीर अब्बास ने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के इस साल इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) कराने का समर्थन किया है। यह टूर्नामेंट 19 सितंबर से 10 नवंबर के बीच यूएई में खेला जाएगा। इस साल 18 अक्टूबर से होने वाले टी-20 विश्व कप के स्थगित होने के बाद आईपीएल के होने की सभावनाएं पैदा हो गईं। जहीर अब्बास ने कहा कि क्रिकेट बोर्ड के लिए यह जरूरी होता है कि वह टी-20 फ्रेंजाइजी लीग से पैसा कमाए। 

आईपीएल के आयोजन ने बीसीसीआई को आर्थिक रूप से फायदा होगा। इस साल आईपीएल ही नहीं, कैरेबियन प्रीमियर लीग भी बंद दरवाजों में खेली जाएगी। इसकी शुरुआत 18 अगस्त से त्रिनिदाद और टोबैगो में होगी। जहीर अब्बास ने खलीज टाइम्स से कहा, ”पाकिस्तान को खुशी होगी यदि वह भी समय पर इस तरह की लीग से पैसा कमा पाए।”

2011 वर्ल्ड कप सेमीफाइनल मैच से पहले अख्तर-अफरीदी ने ऐसे की थी आशीष नेहरा की मदद

उन्होंने कहा, ”हर देश टी-20 मैच खेलना चाहता है। भारत ही नहीं हर देश टी-20 लीग का आयोजन करना चाहता है, क्योंकि इसमें बहुत अधिक पैसा शामिल होता है।” हालांकि शोएब अख्तर समेत कई पाकिस्तानी क्रिकेटरों ने आईपीएल के आयोजन की आलोचना की है, लेकिन अब्बास ने कहा कि बीसीसीआई के पास आईपीएल से पैसा कमाने का अधिकार है। 

उन्होंने इस बातचीत में बोर्ड की प्रतिबद्धताओं का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा, ”क्रिकेट बोर्ड्स की बहुत सी प्रतिबद्धताएं होती है, जो उन्हें पूरी करनी होती है। आप जानते हैं वेस्टइंडीज और पाकिस्तान की टीमें इंग्लैंड में टेस्ट सीरीज खेलने गईं। उन्हें कुछ दिनों के लिए क्वारंटाइन में भी रहना पड़ा। वेस्टइंडीज और इंग्लैंड ने खाली स्टेडियम में मैच खेले।”

सचिन तेंदुलकर को पहली बॉल डालते हुए खुद से कह रहे थे शोएब अख्तर- ‘यह गॉड है? इसकी खैरियत नहीं’

बता दें कि जहीर अब्बास के नाम एक अनोखा रिकॉर्ड दर्ज है। वह पहले बल्लेबाज थे, जिन्होंने 1982-83 में वनडे में तीन लगातार शतक लगाए थे। उन्होंने अपनी बात यह कहकर समाप्त की कि क्रिकेट खेलने वाला हर देश पैसा कमाना चाहता है और सभी देशों को इसमें मदद करनी चाहिए।





Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*