बलिया लाया गया मुख्य आरोपी धीरेंद्र, आज न्यायालय में पेशी के बाद रिमांड लेगी पुलिस


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, बलिया

Updated Mon, 19 Oct 2020 01:10 AM IST

बलिया कोतवाली पहुंचा मुख्य आरोपी धीरेंद्र
– फोटो : अमर उजाला

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर


कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

बलिया जिले के दुर्जनपुर हत्याकांड के मुख्य आरोपी धीरेंद्र को लेकर एसटीएफ की टीम लेकर स्थानीय कोतवाली पहुंची। इसके बाद पुलिस को सौंपकर एसटीएफ रवाना हो गई। आज न्यायालय में पेशी के बाद पुलिस रिमांड लेगी। मुख्य आरोपी 75 हजार के इनामी धीरेंद्र प्रताप सिंह को रविवार को यूपी एसटीएफ ने लखनऊ के जनेश्वर मिश्र पार्क के पास से गिरफ्तार किया था।

इससे पहले शनिवार की सुबह ही वारदात में नामजद 75-75 हजार के इनामी संतोष यादव और अमरजीत यादव को बलिया पुलिस ने गिरफ्तार किया था। धीरेंद्र सिंह पर यूपी पुलिस ने 75 हजार रुपये का इनाम घोषित किया था। अब तक आठ नामजद और करीब 25 अज्ञात आरोपियों में सिर्फ 9 की गिरफ्तारी हो चुकी है।

पुलिस उप महानिरीक्षक सुभाष चंद्र दुबे ने बताया कि दुर्जनपुर में एक नहीं कई हथियारों का यूज किया गया है। उन्होंने बताया कि घटनास्थल के वीडियो देखने के बाद ये पता चल रहा है कि भगदड़ व मारपीट के दौरान कम से कम दस राउंड फायरिंग की गई है। इतनी फायरिंग किसी एक हथियार से नहीं की जा सकती।

उन्होंने बताया कि जयप्रकाश पाल को गोली रिवाल्वर से मारी गई हैं। पोस्टमार्टम के दौरान उसके शरीर में मिली चारों गोलियां रिवाल्वर की हैं। उन्होंने बताया कि मुख्य आरोपी धीरेंद्र प्रताप के पास लाइसेंस भी रिवाल्वर का ही था। अब उसकी गिरफ्तारी हो चुकी है तो उससे पूछताछ में हथियार को लेकर भी सवाल किया जाएगा।

बलिया जिले के दुर्जनपुर हत्याकांड के मुख्य आरोपी धीरेंद्र को लेकर एसटीएफ की टीम लेकर स्थानीय कोतवाली पहुंची। इसके बाद पुलिस को सौंपकर एसटीएफ रवाना हो गई। आज न्यायालय में पेशी के बाद पुलिस रिमांड लेगी। मुख्य आरोपी 75 हजार के इनामी धीरेंद्र प्रताप सिंह को रविवार को यूपी एसटीएफ ने लखनऊ के जनेश्वर मिश्र पार्क के पास से गिरफ्तार किया था।

इससे पहले शनिवार की सुबह ही वारदात में नामजद 75-75 हजार के इनामी संतोष यादव और अमरजीत यादव को बलिया पुलिस ने गिरफ्तार किया था। धीरेंद्र सिंह पर यूपी पुलिस ने 75 हजार रुपये का इनाम घोषित किया था। अब तक आठ नामजद और करीब 25 अज्ञात आरोपियों में सिर्फ 9 की गिरफ्तारी हो चुकी है।



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*