बिहार चुनावः….जब सभा में मंच से रक्षा मंत्र पढ़ने लगे केंद्रीय राज्य मंत्री, जानें क्या है पूरा माजरा


केन्द्रीय गृहराज्य मंत्री नित्यानंद राय सोमवार को हाजीपुर में एक जनसभा को संबोधित करते हुए मंच से ही रक्षा मंत्र पढ़ने लगे। इस दौरान नित्यानंद राय ने कहा कि ‘रक्षा की विनती करता हूं, रक्षा की विनती करता हूं, रक्षा की विनती करता हूं।’ दरअसल इसकी वजह दो दिन पहले एक चुनावी सभा में दिया गया उनका एक बयान है।

बता दें कि एक चुनावी सभा में वैशाली जिले की आठ सीटों पर एनडीए उम्मीदवार को जिताने की अपील करते हुए केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय ने कहा था कि “मेरी रक्षा करो, मेरी लाज बचाओ, मुंह दिखाने लायक नहीं रहूंगा। मेरी प्रतिष्ठा आपके हाथों में है। मेरी रक्षा कीजिए। मैं इस स्थिति में रहूं कि मुझसे पूछा जाए तो बता सकूं कि यह वैशाली जिले के लोगों की जीत है। मुझे प्रायश्चित ना करना पड़े। जो अपनी धरती पर हार जाएगा उसे सम्मान के साथ जीने का अधिकार नहीं है।”

नित्यानंद राय के इस बयान का वीडियो भी सामने आया था, जिसके बाद सोशल मीडिया पर उनकी खूब आलोचना हो रही थी। यही वजह रही कि जब सोमवार को वह हाजीपुर में एक चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे तो उन्होंने कहा कि ‘उन्हें अपने बयान पर कोई अफसोस नहीं है। जनता भगवान है और भगवान के सामने बार-बार यही कहूंगा- रक्षा की विनती करता हूं, रक्षा की विनती करता हूं, रक्षा की विनती करता हूं।’

बता दें कि हाजीपुर वैशाली जिले में आता है और हाजीपुर में नित्यानंद राय का खासा प्रभाव है। यही वजह है कि भाजपा ने वैशाली की आठ विधानसभा सीटों की जिम्मेदारी नित्यानंद राय को दी हुई है। यही वजह है कि नित्यानंद राय भी वैशाली की इन सीटों को जिताने के लिए पूरा जोर लगाए हुए हैं और जमकर जनसभाएं कर रहे हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। में रुचि है तो



सबसे ज्‍यादा पढ़ी गई






Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*