रिकॉर्ड वैक्सीनेशन पर पी चिदंबरम के सवालों पर बोले भाजपा अध्यक्ष- भारत लंगड़ाता नहीं दौड़ रहा है


अभी हाल ही में पूर्व वित्त मंत्री और कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम ने रिकॉर्ड वैक्सीनेशन को लेकर सवाल उठाया था। पूर्व केंद्रीय मंत्री के सवालों पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने जवाब दिया है। जेपी नड्डा ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि ‘भारत लंगड़ा नहीं रहा है बल्कि देश के नागरिकों के ताकत की बदौलत दौड़ रहा है। सोमवार को रिकॉर्ड वैक्सीनेशन के बाद मंगलवार और बुधवार को 50 लाख से ज्यादा वैक्सीनेशन हुआ है।’

क्या कहा था पूर्व मंत्री ने?

इससे पहले देश में चल रहे वैक्सीनेश ड्राइव को लेकर पी. चिदंबरम ने कहा था कि ‘रविवार को जमा करो, सोमवार को वैक्सीनेशन करो और फिर मंगलवार को उसी स्थिति में लौट आओ। यही एक दिन में वैक्सीनेशन का विश्व कीर्तिमान स्थापित करने के पीछे का राज है।’चिदंबरम ने तंज कसते हुए कहा कि ‘मुझे भरोसा है कि इस कदम को गिनीज बुक में स्थान मिलेगा। कौन जानता है कि मोदी सरकार को मेडिसिन का नोबेल पुरस्कार मिल जाए। मोदी है तो मुमकिन है को अब मोदी है तो मिरैकल है पढ़ा जाना चाहिए।’

दरअसल केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने मंगलवार को कहा था कि भारत ने 21 जून को एक दिन में कोरोना वायरस के 88.09 लाख वैक्सीन लगाने की ऐतिहासिक उपलब्धि हासिल की है और करीब 64 प्रतिशत डोज ग्रामीण इलाकों में दी गई हैं। इसी बात को लेकर पी. चिंदबरम ने केंद्र सरकार पर तंज कसा था। 

भ्रम पैदा करने वालों ने चुपके-चुपके टीका लगवा लिया

भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा ने बुधवार को विपक्षी दलों पर टीकाकरण अभियान में ‘बाधक’ की भूमिका निभाने का आरोप लगाया और कांग्रेस के शीर्ष नेताओं पर निशाना साधते हुए कहा कि टीकों को लेकर भ्रम पैदा करने वालों ने खुद चुपके-चुपके टीका लगवा लिया। भारतीय जनसंघ के संस्थापक और पार्टी के विचारक श्यामा प्रसाद मुखर्जी की पुण्यतिथि पर पार्टी मुख्यालय में आयोजित विभिन्न कार्यक्रमों में सम्मिलित होने के बाद अपने संबोधन में नड्डा ने कहा कि टीकाकरण अभियान अभी देश में पूरी क्षमता के साथ चल रहा है और इस साल के अंत तक 257 करोड़ टीकों की खुराक तैयार हो जाएगी तथा सभी लोगों को दोनों खुराक देने के लिए भारत तैयार हो जाएगा।     

संबंधित खबरें



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*