वार्नर के देर से रिव्यू लेने पर थर्ड अंपायर ने क्यों दिया DRS?


भारत के खिलाफ चौथे टेस्ट की दूसरी पारी में डेविड वार्नर 2 रन से अर्धशतक से चूक गए। वह 48 रन बनाकर पवेलियन लौटे। उन्हें वाशिंगटन सुंदर ने एलबीडब्ल्यू (LBW) किया। वार्नर को जब अंपायर ने एलबीडब्ल्यू दिया तो वह पवेलियन की ओर चल दिए थो। हालांकि, कुछ सेकंड बाद ही वह रुके और उन्होंने डीआरएस (DRS) लेने का फैसला किया।

डेविड वार्नर के इसी फैसले पर अब सवाल उठ रहे हैं। ऑस्ट्रेलिया के एक वरिष्ठ खेल पत्रकार ने तो उन पर Selfish (स्वार्थी) होने तक का आरोप लगा दिया। दरअसल, टीवी रिप्ले में साफ देखा जा सकता है कि जब डेविड वार्नर ने रिव्यू लिया तब 15 सेकंड का टाइम पूरा हो चुका था। ऐसे में कुछ फैंस यह भी सवाल उठा रहे हैं कि थर्ड अंपायर ने उनके रिव्यू मांगने पर ध्यान ही क्यों दिया। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (Cricket Australia) ने डेविड वार्नर का आउट होने और रिव्यू लेने वाला वीडियो भी अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर किया है। उसमें साफ है कि जब जीरो सेकंड बचे थे, तब ऑस्ट्रेलियाई ओपनर ने रिव्यू लेने का इशारा किया।

@RAHULPA461 ने क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के इस वीडियो वाले ट्वीट पर सवाल किया। उन्होंने लिखा, ‘याद करिए, जब वनडे सीरीज के दौरान विराट कोहली ने 0 सेकंड के बाद रिव्यू लिया था, तब अंपायर ने उनकी मांग खारिज कर दी थी, लेकिन अब ऑस्ट्रेलियाइयों के लिए नियम बदल गए।’ @IseeICH ने लिखा, ‘मैं उम्मीद करूंगा कि थर्ड अंपायर डीआरएस को लेकर सख्त रहें। वार्नर की यह स्वार्थी हरकत है। टाइम पूरा होने के बाद डीआरएस लेना रिव्यू बर्बाद करना है। उनके बैटिंग पार्टनर ने भी उन्हें बोल दिया था कि वह प्लम्ब आउट हैं।’ @RahulSaysSo ने लिखा, ‘पूरा वीडियो देखिए। वार्नर ने डीआरएस टाइमर पूरा होने के बाद रिव्यू लिया। क्या क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने इस गलती पर परदा डालने की कोशिश की है?’

वहीं ऑस्ट्रेलियाई मीडिया ‘द एरिया न्यूज’ (The Area News) के खेल पत्रकार लियाम वारेन ने भी वार्नर को स्वार्थी बताया। उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘मुझे इस बात का दुख है कि वार्नर ने स्वार्थीपन दिखाया। वार्नर अच्छी तरह से जानते थे कि वह आउट हैं, फिर वह रिव्यू लेने के लिए इतने व्याकुल क्यों थे?’ लियाम ने अपने ट्वीट को AUSvIND को टैग भी किया।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। में रुचि है तो









Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*