Chief Minister Ashok Gehlot Rajasthan Political crises Jaisalmer MLA ministers, latest news live update | केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत बोले- गहलोत सरकार का सार है मौज-मस्ती, फिल्म देखना और दूसरों की गलती निकालना


  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Chief Minister Ashok Gehlot Rajasthan Political Crises Jaisalmer MLA Ministers, Latest News Live Update

जयपुर5 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
  • विधायकों से मिलने आज फिर जैसलमेर जा सकते हैं गहलोत, होटल से काम कर रहे मंत्री और विधायक
  • सभी विधायकों को 5 स्टार सूर्यगढ़ होटल में ठहराया गया, मंत्रियों को दूसरे होटल गोरबंद में रखा गया
  • विधायक और मंत्रियों को जिस होटल में ठहराया गया, वहां मोबाइल नेटवर्क नदारद

राजस्थान में सियासी घमासान के बीच कांग्रेस लगातार भाजपा के निशाने पर है। रविवार को केंद्र सरकार में जल संसाधन मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने गहलोत सरकार पर तंज कसा। उन्होंने ट्वीट किया कि गहलोत सरकार का सार मौज-मस्ती, सैर-सपाटा, खाना-पीना, अंताक्षरी खेलना, फिल्म देखना और दूसरों की गलती निकालना है।

गहलोत खेमे के सभी विधायकों को जैसलमेर स्थित सूर्यगढ़ रिजॉर्ट में शिफ्ट किया जा चुका है। रविवार को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत फिर से विधायकों से मिलने जैसलमेर पहुंच सकते हैं। दूसरी तरफ जैसलमेर में विधायकों के दिन की शुरुआत योग और कसरत के साथ हुई। इसके साथ नाश्ते की टेबल पर नए होटल और सियासी दांव-पेंच की चर्चा जोरों पर रही।

आज सुबह एक एंबुलेंस भी सूर्यगढ़ होटल पहुंची। यहां विधायकों का रूटीन चेकअप किया गया। शनिवार को भी सूर्यगढ़ फोर्ट में डॉक्टरों को बुलाया गया था। मौसम में हुए बदलाव की वजह से विधायकों को घबराहट महसूस हुई। अब सब ठीक हैं।

इस बीच मंत्री और कांग्रेस नेता जनता के कामों के लिए भी एक्टिव दिख रहे हैं। विधायक चेतन डूडी होटल से ही मंत्रियों को कामों के लिए पत्र लिख रहे हैं। डूडी की सिफारिशों पर मंत्रियों की ओर से तुरंत एक्शन भी लिया जा रहा है।

दो अलग-अलग होटल में रखे गए विधायक और मंत्री
सभी विधायकों को 5 स्टार सूर्यगढ़ होटल में ठहराया गया है। वहीं, मंत्रियों को दूसरे होटल गोरबंद में रखा गया है। सुबह अपने काम पूरे करने के बाद मंत्री विधायकों से मिलने सूर्यगढ़ रिजॉर्ट पहुंचते रहते हैं।

नए होटल में विधायकों के सामने नई समस्या
जैसलमेर के सूर्यगढ़ होटल में विधायकों के सामने नई समस्या खड़ी हो गई है। शहर से बाहर होने की वजह से यहां मोबाइल नेटवर्क ठीक से नहीं आ रहा। ऐसे में विधायकों को अपने परिवार और काम से संबंधित बात करने के लिए परेशानी हो रही है। सभी को कमरों से बाहर आकर ही बात करनी पड़ती है। जैसलमेर की तेज गर्मी भी परेशान कर रही है।

एक दिन पहले गहलोत का भाजपा पर हमला

शनिवार को सीएम गहलोत ने केंद्र सरकार पर हमला किया। कहा- धर्मेंद्र प्रधान और पीयूष गोयल समेत कई मंत्री और पूरा गृह मंत्रालय राजस्थान की सरकार गिराने में लगा है। कई छिपे रुस्तम भी लगे हुए हैं। लेकिन हमें मालूम है कि वे कौन हैं। मोदीजी देश के पीएम हैं। लोगों ने उन पर भरोसा किया। उन्हें चाहिए कि राजस्थान में जो तमाशा हो रहा है उसे बंद करवाएं। विधानसभा सत्र की घाेषणा हाेते ही हॉर्स ट्रेडिंग के रेट बढ़ा दिए गए। देश में ये क्या तमाशा हो रहा है। कांग्रेस में सरकार गिराने की काेशिश करने की परंपरा कभी नहीं रही।

उन्होंने कहा कि भाजपा के मुंह खून लग चुका है। कर्नाटक व मध्यप्रदेश में वे ऐसा कर चुके हैं और अब राजस्थान में भी यही कर रहे हैं। पायलट गुट की ओर से किसी के वापस आने पर माफ करने के सवाल पर गहलोत ने कहा कि यह हाईकमान पर निर्भर करता है, यदि हाईकमान माफ करता है तो मैं भी सबको गले लगा लूंगा। मेरा कोई अहम का टकराव नहीं है। बसपा द्वारा उसके छह विधायकाें के कांग्रेस में शामिल हाेने काे लेकर कोर्ट में जाने के बारे में गहलाेत ने कहा कि मायावती बहनजी सीबीआई और ईडी के दबाव में हैं।

0





Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*