MPBSE MP Board Exam 2021: जानें एमपी के सरकारी स्कूलों में किस तरह होंगे 10वीं-12वीं प्री बोर्ड और 9वीं 11वीं के मेन एग्जाम, विस्तृत गाइडलाइंस हुईं जारी


MP Pre Board 10th 12th Exam , MP 9th 11th Exam 2021: मध्य प्रदेश लोक शिक्षण संचालनालय ने गुरुवार को सरकारी स्कूलों में 9वीं 11वीं की मुख्य परीक्षाएं और 10वीं 12वीं की प्री बोर्ड परीक्षाओं के आयोजन के संबंध में विस्तृत गाइडलाइंस जारी कर दीं। कक्षा 9वीं एवं 11वीं के वार्षिक परीक्षाओं तथा कक्षा 10वीं एवं 12वीं प्री बोर्ड परीक्षाओं के लिये सरकारी स्कूलों के विद्यार्थियों को विद्यालय से प्रश्न पत्र वितरित किये जाएंगे। विद्यार्थी घर ले जाकर यह पेपर हल कर सकेंगे। उन्हें अपनी उत्तर पुस्तिकाएं निर्धारित समय सीमा में स्कूल आकर जमा करनी होंगी। 

गाइडलाइंस में स्कूल के प्रिंसिपलों से कहा गया है कि वह कोरोना संक्रमण और लॉकडाउन की स्थानीय परिस्थितियों को ध्यान में रखकर ही 9वीं व 11वीं की वार्षिक और 10वीं 12वीं की प्री-बोर्ड परीक्षाएं कराएं। गाइडलाइंस में कहा गया है कि कक्षा 9वीं एवं 11वीं की वार्षिक परीक्षाओं के लिये तथा कक्षा 10वीं एवं 12वीं की प्री बोर्ड परीक्षा के लिए टाइम टेबल जारी किया गया था, लेकिन वर्तमान में कोरोना संक्रमण के कारण जिलों में भिन्न-भिन्न परिस्थितियां होने के कारण समय सारणी अनुसार कार्यवाही का बंधन समाप्त किया जाता है। यानी प्रिंसिपलों के लिए अब इस टाइम टेबल का अनुसरण करना जरूरी नहीं। किस पेपर को कब कराना है, वह अपने विवेक से परिस्थितियों को ध्यान में रखकर फैसला लेंगे।

आदेश में कहा गया है कि अब 12 अप्रैल या जिले में जिस दिन भी लॉकडाउन खुले, उस दिन अपने जिले की स्थानीय परिस्थितियों के अनुसार सभी प्रश्नपत्र व आंसरशीट एक साथ दे दी जाए। स्कूल से प्रश्न पत्र वितरित करने का समय सुबह 9 से दोपहर 12 बजे तक रहेगा। हालांकि प्रिंसिपल अपने स्तर से अलग-अलग कक्षाओं के लिए अलग-अलग समय तय कर सकेंगे। इस दौरान कोरोना बचाव गाइडलाइंस का पालन करना होगा। स्टूडेंट से वापस आंसरशीट लेने के लिए प्रिंसिपल अपने स्तर से तारीख तय करेंगे। 

9 एवं 10 अप्रैल को रहेगी छुट्टी
कोविड-19 संक्रमण के कारण सभी सरकारी स्कूलों में कक्षा 9वीं से 12वीं के विद्यार्थियों के लिए परीक्षा की तैयारी को लेकर दिनांक 9 एवं 10 अप्रैल को पढ़ाई के लिए छुट्टी रहेगी। ऐसे में विद्यार्थी दिनांक 9 एवं 10 अप्रैल को स्कूल न जाएं। 

उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन विद्यालय के शिक्षकों द्वारा ही किया जाएगा। यदि शिक्षक चाहे तो घर ले जाकर भी मूल्यांकन कर सकेंगे। 

30 अप्रैल तक विमर्श पोर्टल पर जारी हो रिजल्ट
प्राचार्य अनिवार्यतः यह सुनिश्चित करेंगे कि 30 अप्रैल तक बीते वर्ष की तरह इस वर्ष भी विमर्श पोर्टल पर ही परीक्षा परिणाम प्रदर्शित किया जाये।

दिशानिर्देशों के मुताबिक, सरकारी स्कूल आगामी आदेश तक सुबह 9 से दोपहर 12 बजे तक ही खुलेंगे। हॉस्टल में रहने वाले स्टूडेंट अपने नजदीकी स्कूल से प्रश्नपत्र व आंसर शीट प्राप्त कर सकेंगे और जमा कर सकेंगे।





Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*