Raksha Bandhan 2020: इस साल भाई को राशि के शुभ रंग के अनुसार बांधे राखी, पलटेगी किस्मत


रक्षाबंधन (Raksha Bandhan 2020) का त्योहार 3 अगस्त को मनाया जाएगा। इस साल राखी सावन के आखिरी सोमवार को पड़ रही है। राखी पर बहनें भाई की कलाई पर रक्षासूत्र बांधकर उनकी लंबी आयु की कामना करती हैं। लेकिन इस साल आप भाई को राशि के अनुसार राखी बांधकर भाई के जीवन में खुशियां ला सकती हैं।

जानिए कौन-सी राशि के लोगों किस रंग की राखी बांधना होता है शुभ-

मेष-

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, मेष राशि के जातकों को लाल रंग या नारंगी रंग की राखी बांधना शुभ होता है। कहते हैं कि ऐसा करने से इस राशि के लोगों को सुखों की प्राप्ति होती है।

ये भी पढ़ें: इन प्यार भरे मैसेज व कोट्स से भेजें राखी की बधाई, रिश्ते में घुलेगी प्यार की मिठास

मिथुन-

कहा जाता है कि मिथुन राशि के जातकों को हरे रंग की राशि बांधना शुभ होता है। इसके पीछे का कारण है कि मिथुन राशि का स्वामी बुध ग्रह होता है।

कर्क-

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, इस राशि के जातकों को मोतियों से बनी राखी बांधना शुभ होता है। कहते हैं कि ऐसा करने से भाई के जीवन में सुख-संपदा आती है।

सिंह-

माना जाता है कि सिंह राशि के जातकों को लाल, नारंगी या सुनहरे रंग की राखी बांधनी चाहिए। ऐसा करने से भाई के जीवन में समृद्धि आती है।

कन्या-

इस राशि के जातकों के लिए शुभ रंग हरा माना गया है। कहते हैं कि हरे रंग की राखी भाई को बांधने से उसे सुखों की प्राप्ति होती है।

तुला-

तुला राशि के जातकों को चांदी की राखी बांधना शुभ माना जाता है। इसके अलावा सफेद या हल्के बादामी रंग की भी राखी बांधी जा सकती है। कहते हैं कि ऐसा करने से भाई को धन लाभ होता है।

वृश्चिक-

इस राशि के जातकों को लाल रंग की राखी बांधना शुभ होता है। कहते हैं कि ऐसा करने से भाई की जीवन में आने वाली रुकावटें दूर होती हैं।

ये भी पढ़ें: भूलकर भी नहीं रखनी चाहिए घर में ये चीजें, होता है आर्थिक नुकसान

धनु-

इस राशि के जातकों के लिए शुभ रंग पीला माना जाता है। कहते हैं कि पीले रंग की राखी बांधने से भाई को आर्थिक लाभ होता है।

मकर-

मकर राशि के जातकों को गहरे नीले, बैंगनी या स्लेटी रंग की राखी बांधना शुभ होता है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, ऐसा करने से जीवन में सुखों की प्राप्ति होती है।

(नोट- इस आलेख में दी गई जानकारियों पर हम यह दावा नहीं करते कि ये पूर्णतया सत्य एवं सटीक हैं तथा इन्हें अपनाने से अपेक्षित परिणाम मिलेगा। इन्हें अपनाने से पहले संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें। )





Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*