US Elections: भारत को ‘गंदा’ बताने पर बिडेन ने ट्रंप को घेरा, कहा- ‘उनके साथ अमेरिकी भागीदारी का सम्मान करते हैं’


पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर


कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

राष्ट्रपति चुनाव से ठीक पहले भारत को ‘गंदा’ बताकर डोनाल्ड ट्रंप चौतरफा आलोचनाओं से घिर गए हैं। भारत को गंदा बताने पर डेमोक्रेटिक पार्टी के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार जो बिडेन ने राष्ट्रपति ट्रंप की कड़ी आलोचना की है।

बिडेन ने कहा कि वह और उप राष्ट्रपति पद के लिए उनकी पार्टी की उम्मीदवार कमला हैरिस अमेरिका के साथ भारत की साझेदारी का बेहद सम्मान करते हैं।

बिडेन ने कहा कि ट्रंप ने भारत को ‘गंदा’ देश बताया है। इस तरह से न तो अपने मित्रों के बारे में बात नहीं की जाती है और न जलवायु परिवर्तन जैसी वैश्विक चुनौतियों का सामना ही किया जाता है। कमला और मैं हमारी साझेदारी को खूब महत्व देते हैं।

उन्होंने कहा कि हम हमारी विदेशी नीति में सम्मान को फिर से केंद्र में रखेंगे। अगर मैं राष्ट्रपति चुना जाता हूं तो अमेरिका और भारत आतंकवाद के सभी रूपों के खिलाफ और शांति व स्थिरता के ऐसे क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए साथ काम करेंगे, जहां चीन या कोई अन्य देश अपने पड़ोसी देशों को चेतावनी नहीं देता हो।

आगे कहा कि हमारी सरकार अमेरिका और भारत में मध्य वर्ग को बढ़ाने के लिए मिलकर काम करेंगे। जलवायु परिवर्तन जैसी वैश्विक चुनौतियों का सामना भी साथ मिलकर करेंगे। अंतिम चुनावी बहस के दौरान राष्ट्रपति ट्रंप ने प्रदूषण के मुद्दे पर भारत को गंदा बताया था। 

अमीर दोस्तों की मदद के लिए दूसरा कार्यकाल चाहते हैं ट्रंप: ओबामा

पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने आरोप लगाया कि ट्रंप अपने और अपने अमीर दोस्तों की मदद के लिए दूसरा कार्यकाल चाह रहे हैं। ट्रंप के पास कोरोना महामारी से लड़ने के लिए कोई कार्ययोजना नहीं है। ट्रंप के पास औसत अमेरिकियों के लिए न कोई सहानुभूति और न उनकी चिंता।

बिडेन के समर्थन में एक रैली को संबोधित करते हुए ओबामा ने कहा, जो इंसान खुद सवालों से भागता हो उसे क्या आप दोबारा राष्ट्रपति बनाएंगे। ट्रंप का बीच में इंटरव्यू छोड़ कर चले जाना यह साबित करता है कि उन्हें खुद नहीं पता, उन्हें क्या करना है। यह हमारी जिम्मेदारी है कि ऐसे शख्स को दोबारा सत्ता में न आने दें।

दरअसल, चुनाव प्रचार के दौरान ट्रंप मशहूर टीवी शो ‘60 मिनट’ में गए थे। इस दौरान उन्होंने इंटरव्यू को पक्षपात का आरोप लगाकर बीच में ही छोड़ दिया था। 

राष्ट्रपति चुनाव से ठीक पहले भारत को ‘गंदा’ बताकर डोनाल्ड ट्रंप चौतरफा आलोचनाओं से घिर गए हैं। भारत को गंदा बताने पर डेमोक्रेटिक पार्टी के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार जो बिडेन ने राष्ट्रपति ट्रंप की कड़ी आलोचना की है।

बिडेन ने कहा कि वह और उप राष्ट्रपति पद के लिए उनकी पार्टी की उम्मीदवार कमला हैरिस अमेरिका के साथ भारत की साझेदारी का बेहद सम्मान करते हैं।

बिडेन ने कहा कि ट्रंप ने भारत को ‘गंदा’ देश बताया है। इस तरह से न तो अपने मित्रों के बारे में बात नहीं की जाती है और न जलवायु परिवर्तन जैसी वैश्विक चुनौतियों का सामना ही किया जाता है। कमला और मैं हमारी साझेदारी को खूब महत्व देते हैं।

उन्होंने कहा कि हम हमारी विदेशी नीति में सम्मान को फिर से केंद्र में रखेंगे। अगर मैं राष्ट्रपति चुना जाता हूं तो अमेरिका और भारत आतंकवाद के सभी रूपों के खिलाफ और शांति व स्थिरता के ऐसे क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए साथ काम करेंगे, जहां चीन या कोई अन्य देश अपने पड़ोसी देशों को चेतावनी नहीं देता हो।

आगे कहा कि हमारी सरकार अमेरिका और भारत में मध्य वर्ग को बढ़ाने के लिए मिलकर काम करेंगे। जलवायु परिवर्तन जैसी वैश्विक चुनौतियों का सामना भी साथ मिलकर करेंगे। अंतिम चुनावी बहस के दौरान राष्ट्रपति ट्रंप ने प्रदूषण के मुद्दे पर भारत को गंदा बताया था। 

अमीर दोस्तों की मदद के लिए दूसरा कार्यकाल चाहते हैं ट्रंप: ओबामा

पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने आरोप लगाया कि ट्रंप अपने और अपने अमीर दोस्तों की मदद के लिए दूसरा कार्यकाल चाह रहे हैं। ट्रंप के पास कोरोना महामारी से लड़ने के लिए कोई कार्ययोजना नहीं है। ट्रंप के पास औसत अमेरिकियों के लिए न कोई सहानुभूति और न उनकी चिंता।

बिडेन के समर्थन में एक रैली को संबोधित करते हुए ओबामा ने कहा, जो इंसान खुद सवालों से भागता हो उसे क्या आप दोबारा राष्ट्रपति बनाएंगे। ट्रंप का बीच में इंटरव्यू छोड़ कर चले जाना यह साबित करता है कि उन्हें खुद नहीं पता, उन्हें क्या करना है। यह हमारी जिम्मेदारी है कि ऐसे शख्स को दोबारा सत्ता में न आने दें।

दरअसल, चुनाव प्रचार के दौरान ट्रंप मशहूर टीवी शो ‘60 मिनट’ में गए थे। इस दौरान उन्होंने इंटरव्यू को पक्षपात का आरोप लगाकर बीच में ही छोड़ दिया था। 



Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*