Y कैटेगरी सिक्योरिटी पाने वालीं पहली बॉलीवुड सेलिब्रिटी कंगना का ऐसा होगा सुरक्षा घेरा


शिवसेना नेता संजय राउत और एक्ट्रेस कंगना रनौत के बीच जारी जुबानी जंग के बीच केंद्र सरकार ने एक्ट्रेस को Y + कैटेगरी सुरक्षा प्रदान कर दी है। एक्ट्रेस ने हिमाचल सरकार से भी सुरक्षा की मांग की थी। इसी बीच केंद्र ने उन्हें सुरक्षा प्रदान की। Y + कैटेगरी सुरक्षा मिलने के बाद कंगना ने गृह मंत्री अमित शाह को शुक्रिया भी कहा। समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक वाई कैटेगरी सुरक्षा पाने वालीं कंगना बॉलीवुड की पहली सेलिब्रिटी हैं। कंगना की सुरक्षा में
सीआरपीएफ के एलीट कमांडो तैनात रहेंगे।

कैसा होगा कंगना का सुरक्षा घेरा: केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा दी जाने वाली वाई प्लस सिक्योरिटी में कंगना को 11 सुरक्षाकर्मियों का सुरक्षा कवच प्रदान किया गया है। इनमें 1 या 2 एलीट कमांडो और 2 पीएसओ भी शामिल होते हैं। बाकी अर्धसैनिक बलों के दूसरे जवान शामिल होते हैं। आपको बता दें कि केंद्रीय गृह मंत्रालय हर साल विशिष्ट लोगों की सुरक्षा की समीक्षा करता है। इंटेलिजेंस ब्यूरो की तरफ़ से इसकी सिफारिश की जाती है। गृह मंत्रालय इंटेलिजेंस ब्यूरो द्वारा प्रस्तुत सिफारिश में खतरे के स्तर को देखते हुए विशिष्ट और अति विशिष्ट लोगों को अलग-अलग श्रेणी की सुरक्षा प्रदान करता है। वीआईपी सुरक्षा को नियमित अंतराल पर घटाया या बढ़ाया जाता है।

साथ ही सरकार के पास यह अधिकार होता है कि वह किसे किस प्रकार की सुरक्षा देगी। यह सुरक्षा 5 स्तरों की होती है – एसपीजी सुरक्षा, जेड प्लस सुरक्षा, जेड सुरक्षा, वाई और एक्स श्रेणी की सिक्योरिटी। SPG देश की सबसे उच्च स्तर की सिक्योरिटी है, जो कुछ खास लोगों की प्रदान की जाती है। एसपीजी की सुरक्षा 4 लेयर की होती है। इसी तरह जेड प्लस सिक्योरिटी में कुल 36 सुरक्षाकर्मी शामिल होते हैं। जिसमें 10 एनएसजी के विशेष कमांडो होते हैं। जेड प्लस सिक्योरिटी तीन लेयर की होती है।

इसके बाद नंबर आता है जेड कैटेगरी की सिक्योरिटी का। जेड कैटेगरी की सुरक्षा में कुल 22 जवान शामिल होते हैं। इसमें भी 4-5 एनएसजी के विशेष कमांडो होते। इसी तरह वाई कैटेगरी की सिक्योरिटी में 11 जवान शामिल होते हैं। केंद्र की तरफ से अधिकतर वीआईपी को यही सुरक्षा घेरा प्रदान किय़ा जाता है। जबकि X कैटेगरी की सुरक्षा में दो सुरक्षाकर्मी शामिल होते हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। में रुचि है तो



सबसे ज्‍यादा पढ़ी गई






Source link

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*